अदरक गुणों का खजाना है, अगर इसका सेवन किया जाए तो आपको पेट की समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है

सर्दियों में अदरक का सेवन करने से जुकाम व खांसी से छुटकारा मिलता है 

दैनिक जीवन में अपच एक आम समस्या है। हम सभी को कभी न कभी इस समस्या का सामना करना पड़ा होगा। अपच कई कारणों से हो सकता है। खराब दिनचर्या, अस्वाभाविक भोजन या दूषित भोजन सभी इस समस्या के कारक हो सकते हैं। इस समस्या के कई लक्षण हैं, लेकिन उनमें से सबसे आम लक्षण पेट दर्द, सिरदर्द और उल्टी है। इस समस्या के कारण घबराने की जरूरत नहीं है।

आप अपनी रसोई में रखी कुछ प्राकृतिक दवाओं से इसका इलाज आसानी से कर सकते हैं। बाजार में पेट की कई समस्याओं की दवाइयाँ उपलब्ध हैं, लेकिन बार-बार ऐसी दवाओं के इस्तेमाल से शरीर को नुकसान भी पहुँचता है। इन रासायनिक-समृद्ध दवाओं के कई दुष्प्रभाव हैं। तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार सबसे सही, सुरक्षित और सस्ता तरीका है।

उदर विकार की समस्या को दूर करने के लिए अदरक का उपयोग सबसे अधिक फायदेमंद है। अदरक में कुछ तत्व होते हैं जो पेट में एसिड को बेअसर करने में उपयोगी होते हैं और पाचन रस के उत्पादन को भी बढ़ाते हैं। इसलिए अदरक पाचन में बहुत मददगार है। साथ ही यह आंतों के क्षेत्रों से गैस को बाहर निकालने में भी मदद करता है। पेट की बीमारियों को दूर करने के लिए भी अदरक के रस का इस्तेमाल किया जा सकता है।

अदरक का रस निकाल लें और इसे एक गिलास गर्म पानी में मिलाएं और इसमें थोड़ी सी चीनी मिलाएं। यह अदरक का घोल पेट दर्द और पेट की सूजन जैसे विकारों के लिए रामबाण है। इसके अलावा अदरक की चाय भी इस बीमारी के लिए एक लाभकारी औषधि है। एक कप पानी में डेढ़ चम्मच पिसी हुई अदरक लें और इसे 3-5 मिनट के लिए भिगो दें। फिर इसे निचोड़ें और इसमें थोड़ी चीनी या शहद मिलाएं। अब इसे रोजाना कम से कम दो बार इस्तेमाल करें। यह पेट की बीमारियों में बहुत राहत देता है।