किशमिश का सेवन हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है।

किशमिश लीवर से लेकर इम्यूनिटी के लिए फायदेमंद होती है, सर्दियों में इस तरह खाना फायदेमंद होता है।

सर्दियों में सूखे मेवों की मांग बढ़ जाती है। ठंड के मौसम में कंपकंपी से बचने के लिए लोग ड्राई फ्रूट्स को डाइट में शामिल करते हैं। सूखे मेवों में काजू और बादाम के अलावा किशमिश भी बहुत लोकप्रिय है। गाजर के हलवे से लेकर मिठाइयों तक का बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है। खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ किशमिश के कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं। इसे खाने से शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। इसमें कई खनिज और विटामिन होते हैं जो समग्र स्वास्थ्य में सुधार करते हैं। आइए जानते हैं सर्दियों में किशमिश खाने के फायदे -

मजबूत लीवर के लिए आवश्यक: किशमिश लीवर को स्वस्थ रखने में फायदेमंद होती है। इसमें खनिज-विटामिन जैसे कई पोषक तत्व होते हैं। किशमिश के सेवन से शरीर में पाए जाने वाले विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने की प्रक्रिया आसान हो जाती है। बता दें कि लीवर विषाक्त पदार्थों को छानकर काम करता है और किशमिश खाने से उनका काम हल्का हो जाता है। इसके अतिरिक्त, यह यकृत के कार्य में भी सुधार करता है। किशमिश लीवर को संक्रमण से बचाने में भी सहायक होती है क्योंकि ये एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं।

इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद: किशमिश में भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो पूरे शरीर को संक्रमण से बचाने में मददगार होते हैं। इसके उपयोग से प्रतिरक्षा बढ़ाने में मदद मिलती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि किशमिश को विटामिन सी और बी का एक उत्कृष्ट स्रोत माना जाता है। एक शोध के अनुसार, सर्दियों में नियमित रूप से किशमिश खाने से शरीर को संक्रमण और फेरिन कणों से लड़ने की क्षमता मिलती है।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहेगा: हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए किशमिश को फायदेमंद माना गया है। एक शोध में उच्च रक्तचाप से पीड़ित 46 महिलाओं और पुरुषों को शामिल किया गया था, जिनमें से कुछ को किशमिश खाने के लिए कहा गया था। यह अध्ययन, जो 12 सप्ताह तक चला, ने वैज्ञानिकों को निष्कर्ष निकाला कि किशमिश खाने वालों की रक्तचाप रीडिंग दूसरों की तुलना में कम पाई गई। किशमिश को एक गिलास पानी में रात भर भिगो दें। इसके बाद इसे सुबह खाली पेट लें।