5 गुर्दे की पथरी के लिए प्राकृतिक घरेलू उपचार गुर्दे की पथरी के लिए प्राकृतिक घरेलू उपचार

हम आपके लिए किडनी स्टोन के 5 प्राकृतिक घरेलू उपचारों की एक सूची बनाते हैं। गुर्दे की पथरी को मूत्र पथरी, गुर्दे की पथरी, गुर्दे की पथरी या मूत्र पथरी भी कहा जाता है। गुर्दे की पथरी मूत्र में खनिजों और अन्य पदार्थों की कठोर जमा होती है। सभी गुर्दे की पथरी का लगभग 75% मुख्य रूप से कैल्शियम से बना होता है। इन गुर्दे की पथरी में परिवर्तनशील आकार, आकार और रंग होते हैं।

गुर्दे की पथरी का क्या कारण है?

• बहुत कम पानी पीना(Drinking too little water)

• पशु प्रोटीन या ऐसा भोजन खाना जिसमें सोडियम की मात्रा अधिक हो(Eating animal protein of food that is high in sodium)

• कैल्शियम की कमी वाला आहार अन्य पदार्थों के स्तर को बढ़ाता है जो गुर्दे की पथरी का कारण बनते हैं(A calcium deficit diet increases the level of other substances that causes kidney stones.)

• कुछ दवाएं जैसे मूत्रवर्धक और कैल्शियम-आधारित एंटासिड(Certain medications like diuretics and calcium-based astacids)

• हाइपरकैल्स्यूरिया से पीड़ित लोगों में गुर्दे की पथरी होने की संभावना होती है(People with hypercalciuria  are likely to develop kidney stones)

•सूजा आंत्र रोग (Inflammatory bowel disease)

• अतिपरजीविता(Hyperprathyroidism)

•मधुमेह प्रकार 2(Type 2 Diabetes)

•गुर्दे की बीमारी(kidney disease)

• आवर्तक मूत्र मार्ग में संक्रमण(Recurrent urinary tract infections)

• आनुवंशिक परिवर्तन से गुर्दे की पथरी का खतरा बढ़ जाता है

• वजन घटाने की सर्जरी(Weight loos surgery)

• मूत्र मार्ग में संक्रमण(Infections in urinary tract)

Symptoms Of Kidney Stone

• पीठ के निचले हिस्से के दोनों ओर अत्यधिक दर्द(Extreme pain on either side of the lower back)

• एक अस्पष्ट दर्द जो अपने आप कम नहीं होता (A vague pain that does not decrease on its own)

• पेट दर्द जो इलाज तक बना रहता है (Stomach-ache that persists until treated)

• ठंड लगना और बुखार(Chills and fever)

• मूत्र में रक्त पाया गया(Blood found in urine)

• उल्टी के साथ या बिना जी मिचलाना(Nauses with or without vomiting)

• बदबूदार या बादल छाए हुए मूत्र (Smelly or cloudy urine)

1. पानी:  

हालांकि यह एक स्पष्ट समाधान है, हाइड्रेटेड रहना गुर्दे की पथरी के लिए सबसे प्रभावी उपचारों में से एक हो सकता है। पानी की मात्रा बढ़ाने से मूत्र उत्पादन में वृद्धि होती है। यह छोटे गुर्दे की पथरी को बाहर निकालने में भी मदद कर सकता है। मूत्र उत्पादन में वृद्धि अपशिष्ट उत्पाद की एकाग्रता को रोकता है, जिससे गुर्दे की पथरी की संभावना कम हो जाती है।  

2. Green Tea(चाय): 

गुर्दे की पथरी के इलाज के लिए ग्रीन टी का उपयोग किया जा सकता है। यह गुर्दे में कैल्शियम के जमाव को कम करने में मदद कर सकता है। यह मूत्र में ऑक्सालेट के उत्सर्जन को भी कम कर सकता है। अधिक तरल पदार्थ का सेवन भी स्पष्ट मूत्र के निर्माण में मदद कर सकता है

3. Raspberry (रसभरी)

रास्पबेरी फल गुर्दे की पथरी की रोकथाम और प्रबंधन में मदद कर सकता है। यह मूत्र में कैल्शियम और फास्फोरस के स्तर को कम कर सकता है और मूत्र पथ से पथरी को बाहर निकालने में मदद कर सकता है। यह गुर्दे की पथरी के विकास को भी कम कर सकता है। 

4. Pomegranate(अनार):  

अनार सक्रिय फाइटोकेमिकल्स का एक समृद्ध स्रोत है जो मूत्र में जलन को कम कर सकता है। फाइटोकेमिकल्स मांसपेशियों को आराम देने वाले गुण भी दिखा सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप गुर्दे से पथरी निकल जाती है। ताजा अनार का रस पीने से गुर्दे की पथरी का प्रबंधन करने में मदद मिल सकती है। अनार सक्रिय फाइटोकेमिकल्स का एक समृद्ध स्रोत है जो मूत्र में जलन को कम कर सकता है। फाइटोकेमिकल्स मांसपेशियों को आराम देने वाले गुण भी दिखा सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप गुर्दे से पथरी निकल जाती है।

5. Horse gram(चने की दाल): 

हॉर्स ग्राम, जिसे हिंदी में कुलथी भी कहा जाता है, महान औषधीय मूल्य वाले बीज हैं। कई अन्य स्थितियों के साथ, वे गुर्दे की पथरी के प्रबंधन में मदद कर सकते हैं। प्रेशर कुकर में कुलथी के बीज थोड़े से पानी के साथ पकाए जा सकते हैं। कुकर में एक सूप बनता है, जिसे इकट्ठा करके गुर्दे की पथरी को दूर करने के लिए सेवन किया जाता है.5  

 

    Facebook    Whatsapp     Twitter    Gmail